Skip to content
Home | Raigarh News : उसना जमा के लिए 28 तक का समय, 35 प्रश ही पाया लक्ष्य, राईस मिलरों ने धान उठाव के बाद एफसीआई को अब तक नहीं दिया चावल, सरकारी काम छोड़कर फ्री सेल करने वालों पर कोई कार्रवाई ही नहीं

Raigarh News : उसना जमा के लिए 28 तक का समय, 35 प्रश ही पाया लक्ष्य, राईस मिलरों ने धान उठाव के बाद एफसीआई को अब तक नहीं दिया चावल, सरकारी काम छोड़कर फ्री सेल करने वालों पर कोई कार्रवाई ही नहीं

रायगढ़, 24 फरवरी। राईस मिलरों ने एफसीआई में उसना चावल जमा करने को प्राथमिकता नहीं दी और अब अंतिम तारीख नजदीक है। 28 फरवरी तक एफसीआई ने टारगेट दिया है और अभी केवल 34 प्रश चावल ही जमा हो सका है। उसना मिलिंग पर हमेशा से संदेह होता रहा है। जितनी क्षमता का उसना मिलरों ने अनुबंध कराया है, उस हिसाब से चावल जमा होता ही नहीं। इस बार तो उपार्जन केंद्रों से उठाव के कारण मिलरों को समय पर पूरा धान भी मिल गया है। इसके बावजूद चावल जमा करने में गड़बड़ी की जा रही है। भारतीय खाद्य निगम ने इस साल उसना फोर्टिफाइड राइस के लिए 9,58,544 क्विंटल धान का लक्ष्य दिया था जिसमें से 6,71,146 क्विं. का डीओ जारी हो चुका है।

इसका उठाव भी हो चुका है। एफसीआई ने उसना मिलिंग के लिए 28 फरवरी अंतिम तारीख तय की है। उसना चावल जमा की जाने वाली मात्रा 6,51,810 क्विं. है जिसमें से अब तक 2,21,441 क्विं. ही जमा हो सका है। जितना धान उठाया जा चुका है, उसके हिसाब से 4.56 लाख क्विं. चावल जमा किया जाना था। उसका आधा भी जमा नहीं हो पाया है। बताया जा रहा है कि कई मिलर सरकारी मिलिंग का काम छोडक़र फ्री सेल के काम में लगे हुए हैं। रायपुर के दो बड़े डिस्ट्रीब्यूटरों के जरिए चावल बाहर भेजा जा रहा है। 

खरीदे गए धान से ज्यादा डीओ जारी

इस बार धान खरीदी और उठाव का काम एक साथ हुआ इसलिए समितियों में शॉर्टेज सुनाई नहीं दिया। इस बार जिले में कुल धान खरीदी से ज्यादा का आवंटन दे दिया गया है। रायगढ़ जिले में 41,29,666 क्विं. धान की खरीदी हुई है। जबकि शासन ने नान और एफसीआई को मिलाकर 52,83,865 क्विं. का आवंटन जारी कर दिया है। हैरानी की बात है कि इसमें से 46,61,394 क्विं. का डीओ भी काट दिया गया। कुछ मिलरों को बेमेतरा और खैरागढ़-छुईखदान-गंडई से भी धान उठवा लिया गया। डीओ खरीदने-बेचने का खेल भी खूब चल रहा है।

error: Don\'t copy without permission.This is a violation of copyright.